आप एक से अधिक डीमैट अकाउंट खोल सकते हैं

डीमैट अकाउंट बैक अकाउंट की तरह होते हैं जिसमें पैसे की जगह सिक्योरिटीज,शेयर्स, डिबेंचर्स बगैरह इलेक्ट्रॉनिक फॉर्म में रखे जाते हैं। डीमैट अकाउंट की शुरुआत  के बाद सिक्योरिटीज, शेयर्स, डिबेंचर्स बगैरह फिजीकल रूप में रखने की जरूरत नहीं पड़ती है।

कैसे खोलें डीमैट अकाउंट: 
-इसके लिए सबसे पहले सेबी और डिपॉजिटरी से रजिस्टर्ड किसी नजदीकी डिपॉजिटरी पार्टिसिपेंट्स (डीपी) से आवेदन फॉर्म लाएं
-आपके नजदीकी डीपी की जानकारी और कॉन्टैक्ट डीटेल्स डिपॉजिटरी या मार्केट रेगुलेटर सेबी की वेबसाइट (www.sebi.gov.in) से मिल जाएगी
-अपने पैन कार्ड और एड्रेस प्रूफ के साथ ठीक से भरे आवेदन पत्र को डीपी के पास जमा कर दें

-एड्रेस प्रूफ के तौर पर निम्नलिखित दस्तावेज स्वीकार किया जा सकते हैं 

1. पासपोर्ट
2. वोटर आईडी कार्ड
3. केंद्र सरकार / राज्य सरकार / वैधानिक संस्था / बैंक्स / पब्लिक सेक्टर
अंडरटेकिंग / विश्वविद्यालय से संबंद्ध या मान्यता प्राप्त कॉलेज का फोटो
आईडी कार्ड
4. क्रेडिट कार्ड / डेबिट कार्ड स्टेटमेंट
5. बैंक पासपोर्ट
6. राशन कार्ड
7. इलेक्ट्रिसिटी बिल / आवास का टेलीफोन बिल (दो महीने से ज्यादा पुराना नहीं)
8. लीव एंड लाइसेंस एग्रीमेंट

-डीपी आपसे आवेदन फॉर्म जमा करते समय जांच के दौरान मूल दस्तावेज
दिखाने के लिए कह सकता है
-आप डीपी के साथ एक एग्रीमेंट करते हैं जिसमें निवेशक और डीपी के राइट्स
और ड्यूटीज का जिक्र रहता है। एग्रीमेंट की कॉपी आपका हक है जिसमें फ्यूचर
रेफेरेंस के लिए शुल्क का शेड्यूल दिया रहता है।
-सभी जरूरी दस्तावेज सौंपने और एग्रीमेंट पर दस्तखत करने के बाद
डीपी आपका डीमैट अकाउंट खोल देगा। इस दौरान वो आपको 16
अंकों का (8 अंक DPID और 8 अंक Client ID) डीमैट अकाउंट नंबर देगा।
-ये Beneficial Owner Identification number (BO ID) भी कहलाता है।
-अगर आप चाहें तो एक साथ कई डीमैट अकाउंट रख सकते हैं
-आप अपने हिसाब से अपनी सुविधा से अपने डीपी का चुनाव कर सकते हैं।
अपने स्टॉक ब्रोकर्स के साथ ही डीमैट अकाउंट अकाउंट ऐसी कोई बाध्यता नहीं है।
-डीमैट अकाउंट के लिए कुछ शुल्क देने पड़ते हैं, मसलन सालाना अकाउंट मेनटेनेंस चार्ज,
ट्रांजैक्शन फीस (केवल बेचने के समय) बगैरह। फीस के बारे पहले ही पूरी जानकारी
ले लें।

((क्या करें अगर डीमैट अकाउंट होल्डर की मौत हो जाए
http://beyourmoneymanager.blogspot.in/2015/09/blog-post_29.html

((शेयर बाजार; पैसा लगाने से पहले जानकारी लेना जरूरी 
http://beyourmoneymanager.blogspot.in/2015/06/blog-post_69.html

((शेयर बाजार में कैसे शुरू करें ट्रेडिंग
http://beyourmoneymanager.blogspot.in/2015/03/blog-post_14.html

No comments