जून में ई-पर्यटक वीजा पर आने वाले पर्यटक 137.7% बढ़े, अमेरिका अब भी शीर्ष पर


जून, 2016 में ई-पर्यटक वीजा पर आये पर्यटकों की संख्‍या में जून, 2015 के मुकाबले 137.7 प्रतिशत की उल्‍लेखनीय बढ़ोतरी

जून, 2016 के दौरान ई-पर्यटक वीजा सुविधा का लाभ उठाने वाले देशों में अमेरिका अब भी शीर्ष पर, इसके बाद क्रमश: ब्रिटेन और चीन का नंबर
जून 2016 में ई-पर्यटक वीजा पर कुल मिलाकर 36,982 पर्यटक आए, जबकि जून 2015 में 15,557 पर्यटक आए थे। इस तरह जून, 2016 में ई-पर्यटक वीजा पर आए पर्यटकों की संख्‍या में जून, 2015 की तुलना में 137.7 प्रतिशत की उल्‍लेखनीय वृद्धि दर्ज की गई है।

27 नवंबर, 2014 से शुरू हुई ई-पर्यटक वीजा सुविधा 25 फरवरी, 2016 तक भारत में 16 हवाई अड्डों पर 113 देशों के नागरिकों के लिए उपलब्‍ध थी। भारत सरकार ने 26 फरवरी, 2016 से इस योजना का विस्तार करते हुए इसके दायरे में 37 और देशों को शामिल कर दिया जिससे संबंधित देशों की संख्या बढ़कर 150 हो गई। पिछले साल भारत की यात्रा करने वाले अंतर्राष्‍ट्रीय पर्यटकों द्वारा उपयोग किये गये ई-पर्यटक वीजा के संदर्भ में उपलब्धियों की जो स्थिति रही, उससे बेहतर स्थिति चालू कैलेंडर वर्ष 2016 के प्रथम छह महीनों में ही देखने को मिल गई।

जून, 2016 के दौरान ई-पर्यटक वीजा की मुख्य बातें निम्नलिखित रहीं:

(i) जून, 2016 के दौरान 137.7 प्रतिशत की उल्‍लेखनीय बढ़ोतरी के साथ ई-पर्यटक वीजा पर कुल मिलाकर 36,982 पर्यटक आए, जबकि जून 2015 में महज 15,557 पर्यटक ही आए थे।

(ii) जनवरी-जून, 2016 के दौरान ई-पर्यटक वीजा पर कुल मिलाकर 4,71,909 पर्यटक आये, ज‍बकि जनवरी-जून, 2015 में यह संख्‍या 1,26,214 थी। अत: इस दौरान पर्यटकों की संख्‍या में 273.9 प्रतिशत की उल्‍लेखनीय वृद्धि दर्ज की गई है।

(iii) यह बढ़ोतरी 150 देशों के लिए ई-पर्यटक वीजा की पेशकश करने से ही संभव हुई है, जबकि पहले यह संख्या केवल 76 ही थी।

(iv) जून, 2016 के दौरान ई-पर्यटक वीजा सुविधाओं का लाभ उठाने वाले शीर्ष 10 स्रोत देशों की हिस्सेदारी प्रतिशत में निम्नलिखित रही:

संयुक्त राष्ट्र अमेरिका (23.22 प्रतिशत), ब्रिटेन (14.16 प्रतिशत), चीन (6.91 प्रतिशत), ऑस्‍ट्रेलिया (5.59 प्रतिशत), फ्रांस (4.10 प्रतिशत), जर्मनी (4.03 प्रतिशत), कनाडा (4.02 प्रतिशत), सिंगापुर (2.62 प्रतिशत), मलेशिया (2.53 प्रतिशत) और स्‍पेन (2.40 प्रतिशत)।

(v) जून, 2016 के दौरान ई-पर्यटक वीजा पर आए पर्यटकों के मामले में शीर्ष 10 हवाई अड्डों की हिस्सेदारी प्रतिशत में निम्नलिखित रही:

नई दिल्ली हवाई अड्डा (42.15 प्रतिशत), मुंबई हवाई अड्डा (22.94 प्रतिशत), बेंगलुरू हवाई अड्डा (9.95 प्रतिशत), चेन्नई हवाई अड्डा (9.80 प्रतिशत), हैदराबाद हवाई अड्डा (3.76 प्रतिशत), कोच्चि हवाई अड्डा (3.52 प्रतिशत), कोलकाता हवाई अड्डा (2.72 प्रतिशत), अहमदाबाद हवाई अड्डा (1.16 प्रतिशत), तिरुचिरापल्‍ली हवाई अड्डा (1.15 प्रतिशत) और तिरुअनंतपुरम हवाई अड्डा (1.08 प्रतिशत)। 




((मई में ई-पर्यटक वीजा पर आने वाले पर्यटक 179.9% बढ़े, अमेरिका के सबसे ज्यादा पर्यटक
((जानिए ई-पर्यटक वीजा सुविधा कैसे काम करती है, 16 हवाई अड्डों पर उपलब्ध है सुविधा
(ब्लॉग एक, फायदे अनेक

Plz Follow Me on: 

No comments