सर्टिफिकेट ऑफ डिपॉजिट्स (CDs) के बारे में जानें

-सर्टिफिकेट ऑफ डिपॉजिट्स (CDs) मनी मार्केट साधन है जिसे छोटी अवधि में पैसों की जरूरत पूरा करने के लिए कमर्शियल बैंक और चुनिंदा वित्तीय संस्थान (financial Institutions) जारी करते हैं।

-CDs का न्यूनतम (मिनिमम) निवेश आकार एक लाख रुपए है और उसके बाद एक लाख के मल्टीपल में होता है। क्रेडिट रेटिंग एजेंसियां इन CDs को रेटिंग देती है।

- CDs पर मिलने वाला ब्याज मार्केट की स्थिति और इससे पैसे जुटाने वाली कंपनियों या बैंक की क्रेडिट पर निर्भर करता है।

-बैकों द्वारा जारी किए जाने वाले CDs की मैच्योरिटी अवधि 7 दिनों से लेकर एक साल तक की होती है।

((बैंक कम जारी कर रहे हैं सर्टिफिकेट ऑफ डिपॉजिट्स ( CDs)
http://beyourmoneymanager.blogspot.in/2015/08/cds.html

No comments